“मात-पिता के ममता की छाँव में”

20
396

जब ईश्वर ने मुझे इस दुनिया में बिटिया के रूप में भेजा होगा,

मात-पिता का चयन पहले से उसने ही किया होगा,

देकर जन्म माँ-पापा के आँगन में मँद-मँद ऊपरवाला भी मुस्कुराया होगा।

 

जब उँगली पकड़कर मुझे आप दोनों ने चलना सिखाया होगा,

बड़े अरमानो से फिर मुझे गोद में बिठाया होगा,

‘बेटी नहीं बेटा है तू मेरा’ कहकर जब पुकारा होगा,

हर बेटी का अस्तित्व धन्य-सा हो गया होगा।

 

पहली बार जब पढ़ने के लिए पाठशाला माँ रखने आयी थी,

नन्हें-नन्हें हाथों में वह कलम- पुस्तक थमा गयी थी,

उस दिन से माँ-पापा ने एक नयी ज़िन्दगी की रचना की थी,

एक उम्मींदो की कडी फिर मुझसे जुड़ गयी थी।

 

जब-जब भी कभी हालातों से डरकर मैं सहम-सी जाती थी,

हिम्मत बनकर माता –पिता ने मुझे, एक नयी राह दिखाई थी,

ज़िन्दगी के इस दौर में धीरे- धीरे मैं बड़ी हो गयी थी,

तभी अचानक एक समय पर कुछ घटना-सी घट गयी थी।

 

नकारात्मक विचारों का दौर मेरे मस्तिष्क में शुरू हो गया था,

पापा अब मैं ना पढ़ पाऊँगी यही एक शब्द मुँह पर रट गया था,

लोग क्या कहेंगे मम्मी-पापा को यही डर मन में बैठ गया था,

होकर निराश भी इस दौर में, आप ने यही समझाया था,

“तुम कर सकती हो बेटा मेरी” यही बात बतलाया था।

 

सुनकर पापा की बातों को कुछ हिम्मत-सी आ गयी थी,

तभी देखते-देखते इम्तहान शुरू हो गयी थी,

पाकर परिणाम इम्तहान-का उस वक़्त आँखें भर-सी गयी थी,

माँ-पापा के भरोसे की जीत फिर से हो गयी थी।

 

हर जिद्द को मेरी पूरा किया हैं, बिन-बोले सबकुछ समझ लिया हैं,

मुझसे भी ज्यादा आप दोनों ने मुझपर विश्वास किया हैं,

आज मैं कहना चाहती हूँ, कभी वो विश्वास नहीं टूटेगा,

बस एक शर्त रखती हूँ की, यह हाथ सिर से कभी नहीं उठेगा,

 

हो जाऊँ अगर मैं पराये घर की फिर भी बेटी आपकी कहलाऊँगी

माँ-पापा आपके चरणों में कर सत्-सत् नमन झुक जाऊँगी,

हे प्रभु एक विनती आज तुझसे भी करना चाहुँगी,

हर बेटी को खुशीयाँ मिले यही बात दोहराऊँगी,

और हर जनम अपने माता-पिता की बिटिया बनकर आना चाहुँगी।

Priti Yadav
tweet @YadavPriti5

 

 

 

20 COMMENTS

  1. और हर जनम अपने माता-पिता की बिटिया बनकर आना चाहुँगी। ખુબ સરસ કવિતા છે

     
  2. Costo Cialis Da 5 Healtyman 795 Gonorrhea Treatment Online [url=http://cheapestcial.com]generic cialis from india[/url] Celebrex 22mg Macrobid With Free Shipping Overseas Private Prescription For Ciprofoxacin

     
  3. Howdy! Do you know if they make any plugins to safeguard against hackers?
    I’m kinda paranoid about losing everything I’ve
    worked hard on. Any suggestions?

     
  4. Pretty nice post. I just stumbled upon your blog and wished to
    mention that I have truly loved browsing your blog posts.

    In any case I will be subscribing to your rss
    feed and I’m hoping you write once more very soon!

     
  5. Its like you read my mind! You appear to know so much about this,
    like you wrote the book in it or something. I think that
    you could do with a few pics to drive the message home a
    little bit, but instead of that, this is excellent blog.

    An excellent read. I will definitely be back.

     
  6. Magnificent website. A lot of useful information here.
    I am sending it to some buddies ans also sharing in delicious.

    And of course, thank you for your sweat!

     

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here